Goa – away from beach tourism

एक गोवा ऐसा भी … सूर्य, समंदर और सुरा के समीकरण से परे भी एक गोवा है, वही गोवा मेरी मंजिल बना था इस बार। पार्टी, नाइटलाइफ, शैक्स, बीच, क्लब, पब, रेसोर्ट, मस्ती-सुरूर से अलग एक और संसार है गोवा में, उसी को टटोलने की खातिर हमने साउथ गोवा के वार्का गांव में अपना ठिकाना…

a day’s trip to potter’s village .. where dreams are made of clay!

इक दिन बिक जाएगा माटी के मोल ………… वो करीब साढ़े तीन दशक पहले सूखे और गरीबी से आजिज़ आकर अलवर (राजस्‍थान) में अपने घरों को छोड़कर अनजान मंजिल की तरफ बढ़ चले थे। उनके काफिलों में उनकी औरतों, बच्‍चों, कुछ बर्तन-भांडों, कपड़ों-लत्‍तों के सिवाय जो एक बड़ी चीज़ शामिल थी वो था उनका हुनर।…