Come closer to Uttrakhand and be a witness to a unique pilgrimage – Nanda Devi Rajjaat Yatra 2013

नंदा देवी राजजात यात्रा 2013 (29 अगस्‍त से 16 सितंबर, 2013) अनजान रास्‍तों का अबूझ सफर कहते हैं वास्‍तविक यात्राएं वही होती हैं जिनके ओर-छोर टूरिस्‍ट मानचित्रों पर कहीं दिखायी नहीं देते और असली ट्रैवलर भी वही है जो रटी-रटायी लीक पर चलने के बजाय किसी नए, अनजान, अनूठे और आश्‍चर्य में डाल देने वाली…

Shades of Spiritual Tourism! ख्‍वाजा के दरबार में हाजिरी

अजमेर तक का रास्‍ता नापना कभी भी मुश्किल नहीं लगता। अलबत्‍ता, उस शहर की गलियों को छोड़कर लौटते हुए मन ने हमेशा कहा है कि फिर बुलाना, जल्‍दी बुलाना। इंसानी फितरत है दुआ करना, वो पूरी कितनी होती है, किसकी होती है, पता नहीं . . . लेकिन फिर भी आदतन हम दुआ करते हैं।…