My Journey to Shiva’s Abode – Kailas Mansarovar (Part III *)

लिपुलेख (16730 फुट) की चढ़ाई नाभिढांग (13,926 फुट) कैंप से सवेरे 3 बजे चल दिए हैं हम, बाहर निकलते ही हल्की चढ़ाई पार कर त्रिलोक अपने घोड़े के साथ हमारे इंतज़ार में खड़ा दिख गया। बिना सोचे-विचारे घोड़े की पीठ पर सवार हो गई हूं, दूसरे यात्री भी ऐसा ही कर रहे थे या कर…