A pilgrimage under the shadow of dragon

नई नहीं है कैलास-मानसरोवर तीर्थयात्रियों के साथ चीन की बदसलूकी! तिब्बत में भोजन से लेकर शौचालय की बदइंतज़ामी करती है कैलास-मानसरोवर यात्रियों को शर्मसार तीर्थयात्राओं में बदइंतज़ामी तो सुनी थी मगर बदसलूकी? पश्चिमी तिब्बत स्थित कैलास पर्वत और मानसरोवर की परिक्रमा के लिए भारत से जाने वाले आस्थावानों की भावनाओं के साथ चीन शुरू से खिलवाड़…

So, you want to go to #Kailas #Mansarovar in #Tibet?

All you should know before applying for #KMY2016 Last date for online application – 20 April. 2016 उम्र का चालीसवां वसंत पार करते-करते तिब्बत में ट्रांस हिमालयन हिंदू तीर्थ कैलास मानसरोवर की यात्रा कर लेने का जुनून मुझ पर हावी हो चुका था। जानकारी के नाम पर बस इतना पता था कि लंबी, थका देने…

My Journey to Shiva’s Abode – Kailas Mansarovar (Part III *)

लिपुलेख (16730 फुट) की चढ़ाई नाभिढांग (13,926 फुट) कैंप से सवेरे 3 बजे चल दिए हैं हम, बाहर निकलते ही हल्की चढ़ाई पार कर त्रिलोक अपने घोड़े के साथ हमारे इंतज़ार में खड़ा दिख गया। बिना सोचे-विचारे घोड़े की पीठ पर सवार हो गई हूं, दूसरे यात्री भी ऐसा ही कर रहे थे या कर…

My Journey to Shiva’s Abode – Kailas Mansarovar (Part II*)

Gunji (10,370 feet) to Nabhidhang (13,980 feet) via Kalapani (11,800 feet)  गुंजी पर ही कुटी नदी कालापानी से आ रही काली से आकर मिलती है। कुटी आदि कैलास से आ रही है और काली के झगीले पानी में समाने के बाद दोनों अब आगे की राह बढ़ती हैं। इसी कुटी पर बने झूला पुल को पार कर हमें अपने कैंप…

My Journey to Shiva’s Abode – Kailas Mansarovar (Part I)

Photo Essay on Kailash-Mansarovar Pilgrimage तिब्बत में कैलास मानसरोवर हमारा मुकाम है, बीच के पड़ाव कोई मायने तो नहीं रखते लेकिन अंतिम मंजिल तक पहुंचने की कड़ियां उनसे ही बुननी है। पिथौरागढ़ के धारचूला में तवाघाट पर धौली और काली के उफनते संगम को पार कर पांगला पहुंचाया है जीप ने। यहां से आगे का…