The Skyscanner IndiBlogger meet!

जब ब्लॉगर्स बिरादरी ने लिया ट्रैवल सर्च इंजन का इम्तहान! 

ब्लॉगिंग की दुनिया का रोमांच मेरे सामने खुल रहा है, लिखना और छपना तो आदत रही है, अब लत बन रही है लेकिन ब्लॉगिंग इनके बीच की कोई जगह है। वहां हम लिखते है, अपने मन—मुताबिक, पूरी भड़ास निकालते हैं तबीयत से और यह परवाह भी नहीं रहती कि कब कौन—सी बात कहनी है, कितनी कहनी है, कितने सलीके से करनी है। ब्लॉगिंग यानी मन की हर बात कह देने का प्लेटफार्म। ब्लॉगिंग यानी कुकिंग से लेकर फैशन, लाइफस्टाइल, टैक्नोलॉजी, फाइनेंस और टूरिज़्म जैसे अपने—अपने शौक पर खुलकर लिखने—शेयर करने का मंच। करीब दो साल पहले जब पहली—बार इंडीब्लॉगर शब्द कानों में घुला था तो रोमांच पैदा हुआ इस जानने का, इसे और समझने का और किसी को जानने का सफर कभी पूरा हुआ है क्या ?

हां, इंडीब्लॉगर के साथ इस सफर में कई मुकाम जुड़ते गए। बीते बरस पहली बार इंडीब्लॉगर मीट में हिस्सा लिया,किसी शैम्पू—वैम्पू ब्रांड ने स्पॉन्सर किया था आयोजन, सो काफी समय देर सिर धुलवाने—धुलने के नुस्खे सुनते बीता। सच कहूं, मोहभंग हो गया था उसी दिन इंडीब्लॉगर से! पहला ही मौका, और वो भी कंज्यूमरिज़्म के नाम पूरा दिन कुर्बान हो जाए तो शायद ऐसा ही होता है।

फिर इस साल की शुरूआत हुई एक शानदर भव्य इंडीब्लॉगर मीट के साथ। इस बार मौका था टैक्नोलॉजी, एॅप से जुड़ने का। मज़ा आ गया। उस मीट के बारे में बस इतना ही।

अरे भई, Skyscanner के साथ जो ताज़ा मुलाकात हुई उसे कहने की बेचैनी इतनी ज्यादा हो तो कोई क्या करे। इस बार मौका था मेरे अपने सब्जेक्ट से जुड़े रहने का। संडे की छुट्टी, राजधानी के दिल में शान से सिर उठाए खड़े ली मेरिडियन जैसे पांच सितारा होटल में इंडीब्लॉगर मीट का पैगाम मिला तो झटपट पहुंच गए। इस बार पहले के मुकाबले बहुत ब्लॉगर्स पहुंचे थे।

Image

सैल्फी सेशन ने तो पूरी ब्लॉगर्स बिरादरी को जैसे अपने—अपने स्मार्टफोन का इम्तहान लेने में लगा दिया। हर कोई अपने साथ बैठे ब्लॉगर के साथ सैल्फी उतारते—उतारते कब एक कोने से दूसरे कोने तक पहुंच गया था, उसे खुद भी पता नहीं चला। और जब बात आयी इनाम की तो एक नहीं, दो नहीं, दस भी नहीं बीस—बीस सैल्फी अपने स्मार्टफोन में कैद करने वाले विजेता बन गए! दिलचस्प रहा सैल्फी राउंड।  

Image

यकीनन, इंडीब्लॉगर की लोकप्रियता बढ़ रही है। लेकिन मेरे दिल का एक कोना कह रहा था — सब घुमक्कड़ हैं यहां! तभी इतने जमा हो गए हैं! 

Image

और सचमुच ऐसा ही निकला। वो एक मोहतरमा ने फिलीपींस के अपने सफर की दास्तान सुनायी तो अपुन ने मन ही मन फैसला कर लिया कि अगली मंजिल मनीला—शनीला ही बना लेंगे। बावरे मन को क्या पता था कि दूसरे जनाब माइक संभालेंगे और साउथ कोरिया की ऐसी दिलचस्प कहानियां सुनाएंगे कि हम उस ओर ही लपक लेंगे। और ये क्या, तीसरी ब्लॉगर और भी दिलचस्प निकलीं। पिछले डेढ़ बरस में करीब 15 देशों की यात्राएं कर आयी हैं। बाप रे बाप! एक हम ही अपने को बड़ा फन्ने खां समझ रहे थे। यहां तो सब इब्न बतूता से इंस्पायर्ड हैं। मार्को पोलो के किस्सों को इस दौर में पछाड़ने में लगे हैं। और यकीनन पछाड़ देंगे। मार्को पोलो के पास Skyscanner जैसी powerful flight search travel app कहां थी ? वो तो सफर करते थे खर्रामा-खर्रामा। मगर नए दौर का टूरिस्ट दौड़ता है फर्राटा! उसकी दौड़ में भागीदार बनते हैं ऐसे travel search engine जो पल भर में world tour का बजट बनाने में मदद करते हैं।

वाकई ऐसे पर्सनल travel agent हमारे स्मार्टफोन में हर कदम पर हमारे साथ रहें तो ह्वेन सांग के रिकार्ड तोड़ने की हिमाकत हम कर ही डालेंगे। कोई शक है क्या ? अगली इंडीब्लॉगर मीट भी Skyscanner के साथ करवा कर देख लो, नए दौर के अल बिरूनी, इब्न बतूताओं को वहीं कहीं अपने बीच बैठे पाओगे!

इंतज़ार रहेगा Skyscanner के साथ एक बार फिर जुड़ने का। Skyscanner की Market Development Manager for India — Kavitha Gnanamurthy ने तो एक जोरदार खासियत भी बतायी इस search engine की।

आपके पास दुनिया की किसी भी मंजिल को नापने का इरादा है, मगर यह तय नहीं कर पा रहे हैं कि कब वहां जाएं तो http://www.skyscanner.co.in/ की शरण में आ जाएं। अगले कुछेक महीनों में कब, किस मंजिल के एयरटिकट सबसे सस्ते हो रहे हैं, आपको यह सर्च इंजन बताता रहेगा।

और अगर आपने अपनी मंजिल तय कर ली है लेकिन सफर की तारीखों को लेकर लचीलापन है तो भी चुपचाप http://www.skyscanner.co.in/ को बता दें। इसका पावरफुल search engine आपको दुनियाभर की एयरलाइंस को खंगालकर बता देगा कि आपकी मनपसंद मंजिल पर अगले कौन-से महीने की कौन-सी तारीख में टिकटें सबसे कम दाम पर उपलब्ध हैं। हो गयी न सारी मुसीबत दूर। किफायती सफर की तैयारी में Skyscanner का साथ वाकई लाजवाब साबित होगा। शुक्रिया Kavitha, इतनी दिलचस्प खासियत इतने आसान से presentation के जरिए बताने—समझाने का!

Image

Advertisements